मुख्य पृष्ठ पर वापिस जाये
अचंभित रह गया मैं, वकील के अंतिम संस्कार की कहानी * पत्रकारिता की पाठशाला ‘वीर सक्सेना‘ को समर्पित रहेगी फोरम की परिचर्चा, आपको कभी भूल नही पाएंगे भाईसाहब * राजस्थान में मध्यावधि चुनाव हो सकते हैं - पूनिया * राहुल गांधी का राजस्थान दौरा , ट्रेक्टर रैली, महापंचायत और मंदिरों में किए दर्शन * प्रतापगढ़ में बाईपास निर्माण कार्य होगा शीघ्र प्रारंभ-सांसद जोशी * औद्योगिक इकाईयां सीएसआर की राशि स्थानीय क्षेत्र में खर्च करें: आक्या * गहलोत सरकार दो वर्ष के कार्यकाल में हर मोर्चे पर रही विफल - आक्या * मीडिया का गिरता स्तर, जिम्मेदार कौन ? चिंतन जरूरी * चित्तौड़ जिले में भाजपा की हार के लिए सामूहिक जिम्मेदारी - भाजपा जिला अध्यक्ष * पोलिटिकल आइडियोलाॅजी कुछ भी हो लेकिन पत्रकारिता पर हावी क्यों ? *
मतदान के बाद बिधूड़ी जी का फोन आना और मेरा कहना आप चेयरमैन बना रहे हो.........
मतदान के बाद बिधूड़ी जी का फोन आना और मेरा कहना आप चेयरमैन बना रहे हो.........

(अनिल सक्सेना/ललकार)

नगर निकाय चुनाव होने के बाद 29 जनवरी को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बेंगू विधायक राजेन्द्र सिंह बिधूड़ी जी का मोबाइल आया और सीधे ही मुझसे पूछा क्या चल रहा है ? मैंने जवाब दिया बेंगू नगर पालिका में आप कांग्रेस का चेयरमैन बना रहे हो । उन्होने पूछा कैसे ? मैने अपना आंकलन बताया और जानकारी दी कि चुनाव से करीब 15 दिनों पहले से ही मैं बेंगू सहित कुछ नगर पालिकाओं के विशिष्ट, कुछ आम और कुछ नीचे तबके के लोगो के संपर्क में रहा । मतदान के बाद चुनाव कराने वाले कुछ कर्मचारियों से भी बात की । निष्कर्ष यही निकला कि बेंगू में कांग्रेस अपना बोर्ड बना रही है और इसका एकमात्र कारण बेंगू विधायक राजेन्द्र सिंह बिधूड़ी ही है। रविवार को मतगणना में ललकार का आंकलन एकदम सही निकला ।

राजस्थान सरकार के पूर्व संसदीय सचिव बिधूड़ी की छवि जिले में एक दंबग नेता की रही है और प्रशासनिक अधिकारी उनके क्षेत्र में संभल कर ही काम करते है । बिधूड़ी ने जो कहा सीधे ही कहा और कुछ किया तो खुल कर ही किया, भले ही किसी को अच्छा लगे या बुरा लेकिन वे कांग्रेस संगठन को मजबूत करने और अपने विधानसभा के क्षेत्रवासियों और क्षेत्र का विकास कराने में हमेशा से ही अग्रणी रहे है।

इधर भाजपा जिला अध्यक्ष गौतम दक के गृहक्षेत्र बड़ीसादड़ी नगरपालिका में कांग्रेस का बोर्ड बना। बड़ीसादड़ी में पूर्व गृहमंत्री गुलाबचन्द्र कटारिया से लेकर सांसद सी.पी.जोशी ने भी मतदाताओं से संपर्क किया लेकिन मतदाताओं ने एक नही सुनी और कांग्रेस नेता पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष दिलीप चैधरी के द्वारा युवाओं को महत्व देने का फार्मूला कांग्रेस को जीत दिला गया । भाजपा में टिकिट वितरण को लेकर असंतोष था वहीं सूत्र यह भी बता रहे है कि बड़ीसादड़ी में भाजपा जिला अध्यक्ष गौतम दक ने ही टिकिट वितरित किये थे। कपासन में भाजपा बहुमत से एक सीट कम लेकर रह गई जबकी कपासन में भाजपा के विधायक अर्जुन जीनगर सक्रिय है।

देखा जाए तो चित्तौड़ जिले की तीनों नगरपालिका चुनाव में कांग्रेस ने बाजी जीती और बिना कांग्रेस जिला अध्यक्ष के जीती । इसमें कोई दो राय नही है कि अगर संगठन की बात की जाए तो भाजपा संगठन के कार्य करने का तरीका कांग्रेस संगठन से ज्यादा मजबूत है। इसके बाद भी नगर निकाय में भाजपा की हार सवालिया निशान तो पैदा करती ही है। जबकी अभी हुए पंचायत चुनावों में भाजपा ने कांग्रेस को काफी पीछे छोड़ दिया था ।

बड़ीसादड़ी के एक प्रभावशाली व्यक्ति ने अपना नाम नही छापने की शर्त पर ‘ललकार‘ को बताया कि सच तो यह है कि आजकल जैसे ही किसी को संगठन की बागडोर देते है वैसे ही ‘कुछ‘ उस संगठन को अपना जेबी संगठन बनाकर मनमानी करने लगते हैै और यह कारण है कि चुनावों में जीती हुई बाजी भी हार दी जाती है। (Since 1949 ललकार)

Share News on