मुख्य पृष्ठ पर वापिस जाये
लाॅकडाउन से उपजी बेरोजगारी को दूर करने का प्रयास करें , राजनीति तो होती रहेगी * मीडिया और सत्ता पक्ष * मुख्यमंत्री के निर्णयों से भ्रस्ट अधिकारियों पर गाज गिरना तय * भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पूनिया ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर चौगान स्टेडियम का नाम भाजपा नेता स्वर्गीय भंवरलाल शर्मा के नाम करने की मांग की * राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम प्रत्येक संभाग में करेगा ‘पत्रकार परिचर्चा‘ * राजस्थान मीडिया एक्शन फोरम प्रत्येक संभाग में करेगा ‘पत्रकार परिचर्चा‘ * सहज और सरल व्यक्तित्व के प्रभावशाली व्यक्तित्व मोहन प्रकाश जी भाईसाहब ने दिल्ली की यादें ताजा की * ललकार के बेबाक कलम को एक घण्टे में लाखो पाठको ने पढ़ा * क्या राजस्थान में किसी भी संभाग से फोन नही उठाते भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ? * क्या इंसान की जान से ज्यादा राजनीति जरूरी है ? *
ललकार के बेबाक कलम को एक घण्टे में लाखो पाठको ने पढ़ा

एक घण्टे में ही भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कम्युनिकेशन गैप को माना

दिल्ली/जयपुर/चित्तौड़गढ़ (ललकार) - राजस्थान के सबसे पुराने सन 1949 से प्रकाशित साप्ताहिक अखबार 'ललकार' को पाठको के द्वारा पसन्द करने का आलम यह है कि गुरुवार शाम को संपादक अनिल सक्सेना का लोकप्रिय कॉलम बेबाक कलम वायरल हुआ।

सूत्र बताते हैं कि एक घण्टे में ही कॉलम " राजस्थान में किसी भी संभाग से फोन नही उठाते भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया , व्यस्त हैं संगठन को मजबूत करने में ' दिल्ली की राजनीतिक गलियारों से लेकर राजस्थान में चर्चा का विषय बन गया ।। राजस्थान के कई जिलों से पाठको ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के मोबाइल नम्बर और उनके कार्यालय के लोगो तक पहुँचाया।। दिल्ली से भी भाजपा के कई पदाधिकारियों ने इस बाबत जानकारी ली।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने गुरुवार को कॉलम के वायरल होने के एक घण्टे के बाद ही 'ललकार' से माना कि कम्युनिकेशन गैप हुआ है । उन्होंने बताया कि दो बार कोरोना होने के कारण चिकित्सक ने मोबाइल पर बात करने से मना किया हुआ था । उन्होंने यह भी बताया कि व्यस्तता के कारण भी पिछले तीन माह से कम्यूनिकेशन गेप हुआ है ।। उन्होंने राजस्थान के लोगो से सीधे संपर्क करने और ऐसा सिस्टम मेंटेन करने की भी जानकारी दी। पूनिया ने कांग्रेस सरकार के पिछले दो साल के कार्यकाल को पूरी तरह फैल बताया।।

Share News on