मुख्य पृष्ठ पर वापिस जाये
कोरोना ने इंसान को सच का आईना दिखाया, क्या हम सुधरे ? * हिंदुस्तानी है, इतिहास गवाह है हम मुसीबत से घबराते नही है, हरा देते है * राजस्थानी भाषा के संरक्षण में कारगर साबित होगा कैलेंडर- धीरज श्रीवास्तव * मुख्यमंत्री गहलोत ने प्रदेशवासियों से अपील की * भाजपा ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ ब्लैक पेपर जारी किया * मैं मौत के मूंह में , लगा इतिहास दोहराया जा रहा है * क्या हमारी भी कोई जिम्मेदारी बनती है ? * अपने और परिवार के बचाव के लिए वैक्सीन लगवाइए, गाइडलाइन की पालना कीजिए * कपासन विधायक प्रत्याशी आनंदी राम खटीक के सुपुत्र विवान चावला की प्रथम पुण्यतिथि पर कपासन विधानसभा क्षेत्र सहित चित्तौड़गढ़,बेगू, बड़ीसादड़ी और निम्बाहेड़ा में भी श्रद्धा सुमन अर्पित कर दी श्रद्धांजलि * कौन डर रहा है वसुंधरा राजे से *
पंचायत चुनाव के रिजल्ट के बाद भाजपा और कांग्रेस के राजनीतिक समीकरण बदलना तय
पंचायत चुनाव के रिजल्ट के बाद भाजपा और कांग्रेस में समीकरण बदलना तय

गौतम दक भाजपा में मजबूत, आनन्दीराम ने कांग्रेस की लाज बचाई

चित्तौड़गढ़ (ललकार): जिले में हुए पंचायत चुनाव के रिजल्ट के बाद भाजपा और कांग्रेस दोनो ही दलों में राजनीतिक समीकरणों में परिवर्तन होना तय है।

भाजपा के जिला अध्यक्ष पूर्व विधायक गौतम दक का बड़ीसादड़ी विधानसभा से टिकिट काटकर ललित ओस्तवाल को दे दिया गया था और इसके कई कारण बताए गए थे । लेकिन बाद में पूर्व मंत्री गुलाब चन्द्र कटारिया के वीटो पाॅवर से दक को भाजपा जिला अध्यक्ष बनाया गया । इस नियुक्ति से जिले के कई भाजपा नेता खुश नही थे लेकिन इन नेताओं की चल नही पाई।

जिला अध्यक्ष बनने के बाद गौतम दक की परीक्षा पंचायत चुनाव में होनी थी और इस चुनाव में भाजपा का परचम लहराने से दक एक सफल अध्यक्ष बनने के साथ ही मजबूती से जिले में उभरे है।

दूसरी ओर एआईसीसी सदस्य आनन्दीराम खटीक ने गुटबाजी के कारण कपासन विधानसभा का चुनाव हारा लेकिन वे चुनाव के बाद भी कपासन की जनता के साथ संपर्क में बने रहे । इसका नतीजा यह रहा कि पंचायत चुनाव में जहां एक ओर पूरे जिले से कांग्रेस का सफाया हुआ वहीं कपासन से तीन जिला परिषद की सीटें जीती और कपासन पंचायत समिति पर कांग्रेस को बहुमत मिला । इस नतीजे से चर्चा यह भी चल पड़ी है कि आनन्दीराम खटीक को कांग्रेस का जिला अध्यक्ष भी बनाया जा सकता है। इधर बद्रीलाल जाट जगपुरा ने भी भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष हर्षवर्धन रूद को हराकर कांग्रेस में अपने आप को मजबूत किया है।

बताया जा रहा है कि जिस तरह से गौतम दक के जिला अध्यक्ष बनने के बाद भाजपा में राजनीतिक समीकरण बदल रहें है । उसी तरह से पंचायत चुनाव के रिजल्ट के बाद जिला कांग्रेस में भी परिवर्तन तय है। ( Since 1949 ललकार समाचार पत्र)

Share News on